असम, अरुणाचल प्रदेश, आंध्र प्रदेश, बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गोवा, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, हरयाणा, जम्मू और कश्मीरझारखण्ड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, त्रिपुरा, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तराँचल, वेस्ट बंगाल

राजस्थान इलेक्शन वसुंधरा राजे के हक में जनता का फैसला नाराजगी का है|

Chief Minister Vasundhara Raje

राजस्थान इलेक्शन 2018 Rajasthan Elections में इतना तो तय है कि इस बार राजस्थान के लोग शायद वसुंधरा राजे के हक में वोटिंग ना करें और यह विषय भारतीय जनता पार्टी के लिए परंतु खुद वसुंधरा राजे Vasundhara Raje जी के लिए चिंता का विषय है लेकिन इसमें कहीं ना कहीं कोई ना कोई कमियां ऐसी रही है जिनको वसुंधरा राजे अपने कार्यकाल में लोगों के दिलों के साथ जोड़ने में असफल रही|

चलो थोड़ी सी नजर राजस्थान की तरफ घुमाते हैं| सभी देशवासी All Indian जानते हैं कि राजस्थान में हर 5 साल के बाद चुनावों का समीकरण बदलता रहता है| मतलब 5 साल कांग्रेस राज करती है और 5 साल भारतीय जनता पार्टी राज करती हैं और यह सिलसिला काफी बीते लंबे समय से चलता आ रहा है| जिन कामों को कांग्रेस सरकार Congress Government शुरू करती है और वह काम अगर कांग्रेस के ही कार्यकाल में खत्म हो जाते हैं तो अच्छी बात है लेकिन जब कुछ काम कांग्रेस के कार्यकाल में खत्म नहीं होते तो उनमें दूसरी बार आने वाली पार्टी भारतीय जनता पार्टी अड़ंगा अड़ा देती है| इस वजह से कुछ बड़ी परियोजनाएं Big Projects और रोड नेटवर्क Road Network की अच्छी सुविधा देने में हर पार्टी असफल साबित हुई है|

ऐसा ही कुछ सिलसिला जब भारतीय जनता पार्टी राजस्थान Bharatiya Janata Party Rajasthan में शासन के लिए आती है और जब वह अपने कार्यकाल में कुछ ऐसे कार्यों को शुरू करती है जो उनके कार्यकाल में खत्म नहीं होते उनमें कांग्रेस पार्टी अड़ंगा अड़ा देती है| जब तक किसी एक पार्टी को 15 से 20 साल तक लगातार राजस्थान की जनता मौका नहीं देगी तब तक राजस्थान जैसे बड़े राज्य में विकास होना असंभव दिख रहा है|

राजस्थान ही नहीं अपितु भारतवर्ष के सभी राज्यों के लोग प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को तो अच्छा बताते हैं लेकिन राज्य सरकारों के प्रतिनिधियों के प्रति जनता की राय 90% खरी नहीं उतरती और इसी वजह से मौजूदा सरकार द्वारा चलाए गए विकास के अभियानों को जमीन पर उतारने में राज्य सरकारों की बड़ी भूमिका होती है जिन्हें वह पूरी तरह से लोगों तक पहुंचाने में या विकास करने में सफल नहीं हो रहे और इसका खामियाजा चुनावों में पार्टी को भुगतना पड़ता है|

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की कार्य करने की क्षमता को अगर सभी भारतीय जनता पार्टी शासित प्रदेश Bharatiya Janata Party Territory अपनाएं तो यह स्थिति ही नहीं पनप सकती कि हर 5 साल के बाद चुनावों पर भारी भरकम प्रचार करने के लिए पैसा खर्च किया जाए अगर भारतीय जनता पार्टी शासित प्रदेश एमएलए MLA, एमपी MP, मुख्यमंत्री अपनी अपनी काम करने की कार्यशैली में ईमानदारी और जनता के हित में कार्य करने की कार्यशैली पर काम करेंगे तो हमारे भारतवर्ष का हर राज्य विकसित होने में 5 से 10 साल का समय लगेगा|

सभी समाचार चैनलों द्वारा राजस्थान के लोगों से वार्तालाप करने के उपरांत हमने यह पाया की मौजूदा भारतीय जनता पार्टी की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से राजस्थान के लोग खुश नहीं है| क्योंकि राजस्थान एक बड़ा प्रदेश है और हर जिले तक अपनी पकड़ बनाने के लिए बहुत ही मजबूती के साथ चलना पड़ता है जिससे विकास कार्यों को प्रगति मिले लेकिन इसमें केवल और केवल मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे Chief Minister Vasundhara Raje की भूमिका ही काफी नहीं है| इसके लिए एमएलए MLA को भी अपनी भूमिका निभाने से पीछे नहीं हटना चाहिए ताकि हर एमएलए MLA अपने क्षेत्रों में विकास कार्यों को प्रगतिशील बना सके लेकिन इसमें बहुत सारे एमएलए MLA असफल साबित हुए हैं इसकी वजह से भी भारतीय जनता पार्टी को वोट प्रतिशत में राजस्थान में खामियाजा भुगतना पड़ सकता है|

वसुंधरा राजे का मुख्यमंत्री बनने की आशंका?

वसुंधरा राजे को झालावाड़ के झालरापाटन Jhalrapatan of Jhalawar से टिकट मिला है और कांग्रेस ने वसुंधरा राजे के खिलाफ मानवेंद्र सिंह को चुनाव में उतारा है| अब चूंकि राजस्थान की जनता बदलाव चाहती है तो यहां पर देखा जा सकता है कि वसुंधरा राजे का जीत पाना थोड़ा मुश्किल लग रहा है| लेकिन अगर झालावाड़ के झालरापाटन के वोटरों में से औरतों के वोट वसुंधरा राजे के हक में पड़े तो शायद वह जीत भी सकती हैं लेकिन यहां पर वसुंधरा राजे का जीत पाना मुश्किल होगा| 

Vasundhara Raje’s Dream of Becoming Chief Minister?

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी Prime Minister Shri Narendra Modi वसुंधरा राजे की चाहे जितनी तारीफ करते हैं लेकिन हमें लगता है कहीं ना कहीं नरेंद्र मोदी जी वसुंधरा राजे के काम से खुश नहीं है|  और शायद! अगर इस बार वसुंधरा राजे अपनी सीट से हार जाती है तो मुख्यमंत्री कोई और ही होगा| और अगर मुख्यमंत्री भारतीय जनता पार्टी बनाना चाहेगी तो किसी R.S.S से संबंधित कैंडिडेट को ही बनाएगी और ऐसा ही होगा| ताकि वहां पर विकास के नाम को एक सही मायना मिल सके| क्योंकि हर प्रदेश की जनता केवल और केवल विकास देखना चाहती है|

नया औद्योगीकरण New Industrialization देखना चाहती है| नई पीढ़ी को नौकरियों से वंचित ना रहना पड़े इस तरह का विकास चाहती है| हम यह मानते हैं कि भारतीय जनता पार्टी का प्रतिनिधित्व करने वाले श्री नरेंद्र मोदी जी में यह क्षमता भरपूर भरी हुई है और वह अपनी कार्यशैली से भारतवर्ष के हर प्रदेश की कायाकल्प कर सकते हैं लेकिन इसके लिए प्रदेशों के प्रतिनिधियों की भूमिका काफी मजबूती के साथ होनी चाहिए|

राजस्थान का तख्ता पलट कर यह गलती क्यों करना चाहती है वहां की जनता?

यहां एक बात पर गौर करना सबसे समझदारी वाला काम होगा| कैसे? अभी वहां पर मौजूदा सरकार भारतीय जनता पार्टी की है| जिसका प्रतिनिधित्व वसुंधरा राजे जी कर रही है| मान लिया जाए वसुंधरा राजे अपनी सीट से नहीं जीतती है लेकिन वहां की जनता भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में वोटिंग करती है तो फिर से भारतीय जनता पार्टी की सरकार Bharatiya Janata Party Government बनना राजस्थान में तय है| हमें यह समझ नहीं आता एक मोटी सी बात है जिसे वहां के लोग शायद ही सोचते होंगे या ऐसा भी हो सकता है कि इस बात की तरफ उन्होंने गौर किया हो| केंद्र में किसकी सरकार है भारतीय जनता पार्टी की अगर राजस्थान के लोग वहां पर मौजूदा सरकार में तब्दीली कर देते हैं तो फिर से विकास के कार्यों में ग्रहण लग जाएगा|

Why Do People Want To Make This Mistake By Overthrowing The Coup of Rajasthan?

क्योंकि जनता जिन कांग्रेस के प्रतिनिधियों को चुनेगी उनका तालमेल फिर से भारतीय जनता पार्टी के केंद्र के प्रतिनिधियों के साथ तालमेल बिठाने में कहीं ना कहीं असफल रहेंगे और हर पार्टी यही चाहती है कि अगर हम किसी राज्य में विकास कार्य कर रहे हैं तो वह कार्य सीधे हमारी पार्टी के द्वारा हो तो ज्यादा बेहतर है| तो हमें लगता है कि राजस्थान की जनता को यह गलती कतई नहीं करनी चाहिए| मौजूदा स्थिति में राजस्थान के लोगों को केवल और केवल भारतीय जनता पार्टी की सरकार ही चुननी चाहिए क्योंकि ऐसा करने से वहां के विकास कार्यों को डबल इंजन मिलेगा|

कांग्रेस की स्थिति का समीकरण क्या है?

कांग्रेस सरकार के जीतने पर राजस्थान के बारे में यह कहना की इस जीत में राहुल गांधी की काफी बड़ी भूमिका है तो यह कहना अपने आप में एक बड़ी बेवकूफी वाली बात है| क्योंकि इस बार अगर राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनती है तो इसमें राहुल गांधी की भूमिका कोई मायने नहीं रखती| क्योंकि यह राजस्थान का पैटर्न है 5 साल कांग्रेस 5 साल भारतीय जनता पार्टी| यही कुछ समीकरण वहां पर चलता आ रहा है क्योंकि यह वहां के लोगों की सोच है तो इसमें कांग्रेस के हाईकमान को तवज्जो देने वाली कोई बात नहीं है|

What Is The Equation of Congress Situation?

और इसमें भी आशंका है कि वहां के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत Chief Minister Ashok Gehlod बनेंगे या फिर सचिन पायलट Sachin Pilot राजस्थान के लोग इन दोनों कैंडिडेट के पक्ष में तो है लेकिन कौन मुख्यमंत्री बनेगा उसके ऊपर अभी तक मोहर नहीं लगी है| लेकिन अगर वहां पर भारतीय जनता पार्टी BJP को सरकार बनाने का मौका मिलता है और वसुंधरा राजे हार जाती है अपनी सीट से? तो लोगों को यह चिंता भी नहीं होगी कि कौन मुख्यमंत्री बनेगा क्योंकि वहां के लोग वोट प्रधानमंत्री के पक्ष में डालेंगे|

राजस्थान में #नवजोत सिंह सिद्धू बनेंगे कांग्रेस की हार का कारण?

राजस्थान के किशनगढ़ में हाल ही में हुई नवजोत सिंह सिद्धू की रैली में जब वह प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी पर वह अपने भाषण में चुटकी ले रहे थे तब लोगों ने #नवजोत सिंह सिद्धू के सामने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाना शुरू कर दिए| जिसे वहां पर खड़े बहुत सारे लोगों ने अपने मोबाइल में रिकॉर्ड किया मतलब वीडियो बनाई| ज़ी न्यूज़ के एक पत्रकार ने तो फेसबुक लाइव Facebook Live के ऊपर उसकी लाइव टेलीकास्टइंग की और अपने फेसबुक पर उसको पोस्ट किया| मुझे समझ नहीं आता राजस्थान की जनता क्या इतनी बेवकूफ है जिस कांग्रेस पार्टी की रैली में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लग रहे हो उस पार्टी को वहां के लोग चुने बड़े शर्म की बात है|

#Navjot Singh Sidhu Will Become The Reason For Congress Defeat In Rajasthan?

Rajasthan Election Vasundhara Raje Has The Right To Public Opinion Read The Whole News

Alloverindia.in Indian Based Digital Marketing Trustworthy Information Platform and Online Blogger Community Since 2013. Digital India A Program To Transform India Digitally Empower Society. Our Mission To Digitize Everything In India Through Alloverindia.in Web Portal. Every Indian State District Wise Distributor Try To Collect Needful Data For Internet Search. Anybody direct to Contact Us By Email: alloverindia2013@gmail.com Also Call At 98162-58406, We Provide Help For You.

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Vimeo Skype 

Our Score
Our Reader Score
[Total: 1 Average: 5]

All Over India Website Related Articles