असम, अरुणाचल प्रदेश, आंध्र प्रदेश, बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गोवा, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, हरयाणा, जम्मू और कश्मीरझारखण्ड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, त्रिपुरा, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तराँचल, वेस्ट बंगाल

डिजिटल बनेगा इंडिया (मोदी मिशन डिजिटल इंडिया)

Making Digital All Over India


आज देश  के प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी (President Narendra Modi) ने डिजिटल इंडिया (Digital India) का सुभारम्भ किया और देश के बड़े बड़े उद्योगपतियों (Biggest Industrialist) ने डिजिटल इंडिया (Digital India) के लिए Rs. 4 लाख 50,000 करोड़ के निवेश का वायदा किया। इस मौके पर नरेंदर मोदी (Narendra Modi) ने कहा की दुनियाँ में अगली लड़ाई कम्प्यूटर (Computer) के जरिये होगी साइबर वॉर (Cyber Crime) होगा।

आइये जानते है डिजिटल इंडिया (Digital India) है क्या। और ये कौन कौन से तथ्यों पर काम करेगा।

प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी (President Narendra Modi) के डिजिटल इंडिया (Digital India) मिशन के अन्तर्गत सारे सरकारी रिकॉर्ड हो जायेंगे बैंको के ट्रांजेक्शन डिजिटल हो जायेंगे एजुकेशन (Education) से लेकर स्किल डेवलपमेंट (Skill Development) सब कुछ कम्प्यूटर के जरिये होगा। जनता की शिकायते भी डिजिटल होंगी और सरकार के जबाब इंटरनेट के जरिये मिलेंगे। फर्स्ट जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी (President Narendra Modi) ने बहुत सारी बातों का ऐलान किया और उन्होंने डिजिटल इंडिया का सारा प्लान बताया और इसके साथ साथ एक बड़ी चेताबनी भी दी के दुनिया में अब अगली लड़ाई डिजिटल होगी ये लड़ाई कोई खून खरावे की नहीं, गोली बंदूक की भी नहीं बल्कि कम्प्यूटर से लड़ी जाएगी। प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी (President Narendra Modi) ने कहा की बदलते वक्त से साथ क्राइम (Crime) का तरीका बदला है। पहले शातिर अपराधी क्राइम करते थे लेकिन अब टेक्नोलॉजी की मदद से हजारों मिल बैठा सख्स भी आपकी जेब काट सकता है आपको लूट सकता है। मोदी ने आज साइवर क्राइम (Cyber Crime) की बात की साइवर सिक्योरिटी (Cyber Security) और इन सब बातों को लेकर गुजरात (Gujarat) में तैयारी चल रही है। गुजरात में फॉर्रंसिक साइंस यूनिवर्सिटी (Forensic Science University) में देश का सबसे अत्याधुनिक साइवर सिक्योरिटी लैब (Advanced Cyber Security Lab) बनाया गया है। यहाँ साइवर सिक्योरिटी (Cyber Security) और साइवर फॉर्रंसिक (Cyber Forensic) के मास्टर कोर्स करवाये जाते हैं। सबसे खास बात ये है कि हाउस साइवर के खतरे की सारी डिटेल के बारे में बताया जाता है जिससे आज सारी दुनियाँ मुकावला कर रही है।

इस लैब में ऑटोमेटेड जनरेटेड सॉफ्टवेयर (Automated Generated Software) भी हैं जिनसे खुद ही एक नया अटैक जेनरेट होता है और उन्हें काउंटर (Counter) करना होता है। वर्ल्ड में जितने भी साइवर प्रोटोकॉल (Cyber Protocol) इस्तेमाल होते हैं उन सबके बारे इस लैब में जानकारी दी जाती है अगर न्यूयॉर्क (New York) में कोई साइवर अटैक हुआ तो गांधी नगर की फॉर्रंसिक साइंस लैब (Forensic Science Lab) में देखा जा सकता है और उसे यूटिलाइज़ (Utilize) करने के लिए काम किया जा सकता है। साइवर क्राइम (Cyber Crime) का ये बड़ रहा खतरा किसी दूसरे विदेश में बैठा व्यक्ति हमारे देश में बैठे व्यक्ति को लूट सकता है, उनको लालच देकर उनसे पैसा लूट सकता है और बाद में उसको पकड़ना मुस्किल होता है और इसलिए साइवर क्राइम (Cyber Crime) के बारे में रिसर्च करना उसे पड़ने के लिए रास्ते खोजना बहुत जरुरी है।

मोदी का डिजिटल इंडिया प्लान। Modi Digital India Plan.

डिजिटल इंडिया (Digital India) का मकसद है देश के हर नागरिक को इंटरनेट (Internet), मोबाइल (Mobile), लैपटॉप (Laptop) से जोड़ना। इससे आपको कैसे फ़ायदा होगा। आइये जानते है डिजिटल इंडिया (Digital India) के बारे में सारी डिटेल। अगर इंडिया डिजिटल हुआ तो लोगों को क्या फ़ायदा होगा।

ये एक बड़ी महत्वकांक्षी योजना है और आम लोगों को इससे क्या फ़ायदा होगा मोदी सरकार इस मिशन के जरिये देश की सभी ग्राम पंचायतों को ब्रॉड बैंड कनेक्टिविटी (Broadband Connectivity) के साथ जोड़ना चाहती है शहरों को ब्रॉड बैंड हाईवे के साथ जोड़ा जायेगा

डिजिटल इंडिया (Digital India) की दूसरी बड़ी बात है देश के हर नागरिक के पास मोबाइल फ़ोन (Mobile Phone) की सुविधा हो इस व्यवस्था के ऊपर सरकार डिजिटल इंडिया (Digital India) काम करेगा। मोबाइल के साथ देश के कोने कोने में इंटरनेट फैले और इसका इस्तेमाल हर नागरिक कर पायेगा।

ई-गवर्नेंस (E-Governance) यानि टेक्नोलॉजी (Technology) के जरिये सासन चलाया जाये सरकारी तंत्र में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल हो व्यवस्था में सुधार आये। ई क्रांति के जरिये अलग अलग सेवाओं को लोगों तक पहुंचाया जाये यानि सबको हर जानकारी उपलब्ध हो उनके फ़ोन पर और लैपटॉप पर, कम्प्यूटर पर और इसके जरिये जयादा से जयादा नौकरियाँ उपलब्ध करवाई जाये। और इससे बेरोजगारी भी कम होगी। आईटी सेक्टर से 18, 00, 000 लाख नौकरियां उत्पन होंगी।

डिजिटल इंडिया (Digital India) में कई स्कीमों का भी सुभारम्भ हुआ, डिजिटल लॉकर (Digital Locker) शुरू होगा इसका मतलब है कागजात की जगह अब ई डाक्यूमेंट्स (E-Documents) पर जोर दिया जायेगा सारे जरुरी डाक्यूमेंट्स अब डिजिटली स्टोर  किये जायेंगे। आने वाले वक्त में कहीं किसी को कोई हार्ड कॉपी (Hard Copy) देने की जरुरत नहीं होगी यानि कागज़ कॉपी देने की जरूरत नहीं होगी अब ई सिग्नेचर की व्यवस्था होगी यानि ऑनलाइन एप्लीकेशन (Online Application) पर डिजिटल दस्तखत। (Digital Signature)

ई हेल्थ सुबिधा (E-Health Facilities) होगी, ई हेल्थ के जरिये, ई हॉस्पिटल (E-Hospital) और टेली मेडिसिन (Telemedicine) जैसी फेसेलिटी शामिल होंगी। टेली मेडिसिन (Telemedicine) का मतलब ये है की मरीजों को एम्स जैसे बड़े बड़े हॉस्पिटलों (Biggest Hospital) में इलाज के लिए वहाँ लाइनों में खड़ा नहीं होना पड़ेगा मरीज ऑनलाइन अपॉइंटमेंट (Online Appointment) ले सकते हैं।

स्वच्छ भारत मिशन (Clean India Mission) जैसे कार्यक्रम अब लोगो के मोबाइल पर आयेंगे। नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल (National Scholarship Portal) से छात्रों को हर छात्रवृति की जानकारी मिला करेगी। भारत नेट (Bharat Net) यानि डिजिटल हाईवे जो 2.5 लाख पंचायतों को जोड़ेगा। BPO नीति के अन्तर्गत पूर्वोत्तर राज्यों और शहरो में 48 हजार बीपीओ बनाने का एक बहुत बड़ा टारगेट भी है।

और अगर ये सब हो गया तो देश में ई क्रांति आ जाएगी जैसे हरित क्रांति का जन्म हुआ था।

मोदी ने कहा की आज ही देश की निजी कम्पनियों (Indian Companies) ने Rs.4,50,000 लाख करोड़ का निवेश करने का ऐलान किया है। ये सरकार के 1 लाख करोड़ के खर्चे से अलग है। डिजिटल इंडिया (Digital India) के इस प्रोग्राम में रिलायंस इन्डस्ट्री (Reliance Industries) के चेयरमेन मुकेश अम्बानी, (Mukesh Ambani) टाटा इंडस्ट्री (Tata Industries) के चेयरमेन सीरउस पल्लोंजी मिस्त्री, (Cyrus Pallonji Mistry) भारती के चेयरमेन सुनील भारती मित्तल (Sunil Bharti Mittal) समेत कई बड़े बड़े उद्योगपति (Industrialist) शामिल हुए और सभी ने मोदी को इस मिशन में सहयोग देने का वायदा किया। मुकेश अम्बानी ने ऐलान किया की रिलायंस इन्डस्ट्री डिजिटल इंडिया मिशन (Digital India Mission)में Rs.2,50,000 लाख करोड़ का निवेश करेगी। एयरटेल कम्पनी (Airtel Company) यानि भारती इंटरप्राइजेज ने डिजिटल इंडिया (Digital India) मिशन में Rs.1,00,000 लाख करोड़ से जयादा निवेश करने का वायदा किया। वेदांता के चेयरमेन अनिल अग्रवाल ने कहा की उनकी कम्पनी डिजिटल इंडिया मिशन के तहत Rs.40,000 करोड़ की लागत से LED पैनल तैयार करेगी और भी बहुत सारे उद्योगपति इस प्रोग्राम में मौजुद थे किसी ने फाइवर ऑप्टिक (Fiber Optics) का वायदा किया, किसी ने डिजिटल इंडिया (Digital India) के लिए पाइप लाइन को बड़ा करने का वायदा किया।

और आखिर में मोदी ने डिजिटल इंडिया (Digital India) का एक बड़ा फ़ायदा बताया। मोदी ने कहा की अगर देश डिजिटल हो जायेगा तो क्रपसन (Corruption) पर अपने आप लगाव लग जायेगा सारे काम ट्रांसपेरेंट होंगे सिस्टम में क्रपसन (Corruption) की जगह नहीं होगी मोदी ने कोल ब्लॉक एलोकेसन (Coal Block Allocation) का एक और उदाहरण दिया की ई ऑप्शन किया गया जिससे भ्स्र्टाचार की गुंजाइस खत्म हो गई

आपने देखा होगा पिछले कई दिनों से काँग्रेश लगातार मोदी सरकार (Modi Government) के मन्त्रियों पर मुख्या मन्त्रियों (Chief Minister) पर भ्र्ष्टाचार के आरोप प्रत्यरोप लगा रही है और बार बार नरेंदर मोदी के चुप रहने पर सवाल उठाये हैं। लगता है मोदी की रणनीति अपने काम के जरिये अपने बारे में बोलने की नीति है। पिछले हप्ते उन्होंने Rs.4, 00, 000 लाख करोड़ की स्कीम का सुभारम्भ किया था जिसके तहत लोगों के घर बनेंगे स्मार्ट सिटी बनेंगी। आज उद्योगपतियों (Industrialist) से डिजिटल इंडिया (Digital India) के लिए Rs. 4, 50, 000 लाख करोड़ के निवेश का वायदा करवाया और सरकार की तरफ से Rs.1, 00, 000 लाख करोड़ के निवेश का ऐलान किया अगले हफ्ते स्किल इंडिया (Skill India) का पूरा पैनल सामने आएगा जब मोदी गुजरात में चीफ मिनस्टर (Chief Minister) थे तो भी उनका यही तरीका था विरोधी दल और मीडिया लगातार आरोप लगाते रहते थे लेकिन मोदी उन्हें जबाब देने के बजाये अपने काम की बात करते रहते थे। और प्रधानमन्त्री  (President) बनने के बाद मोदी ने यही फॉर्मूला (Formula) अपनाया है।

Alloverindia.in Indian Based Digital Marketing Trustworthy Information Platform and Online Blogger Community Since 2013. Digital India A Program To Transform India Digitally Empower Society. Our Mission To Digitize Everything In India Through Alloverindia.in Web Portal. Every Indian State District Wise Distributor Try To Collect Needful Data For Internet Search. Anybody direct to Contact Us By Email: alloverindia2013@gmail.com Also Call At 98162-58406, We Provide Help For You.

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Vimeo Skype 

Our Score
Our Reader Score
[Total: 1 Average: 3]

All Over India Website Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.