असम, अरुणाचल प्रदेश, आंध्र प्रदेश, बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गोवा, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, हरयाणा, जम्मू और कश्मीरझारखण्ड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, त्रिपुरा, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तराँचल, वेस्ट बंगाल

सीखें कैसे आप दुल्हन का मेकअप, केश सज़्ज़ा कर सकती हैं अपने घर पर।

learn how to do bridal makeup at alloverindia.in website

दुल्हन का मेकअप: विवाह के दिन मेकअप आरम्भ करने से पूर्व साड़ी के साथ ब्लाउज, पेटीकोट पहन लें ये ख़राब न होने पाये इसके लिए ऊपर से हाउस कोट पहनना उचित रहेगा।  सबसे पहले उबटन करके नहा लें नहाने के पानी में कुछ परफ्यूम की बूंदें डालने से सम्पूर्ण शरीर सुगंधित हो उठेगा।  त्वचा को मुलायम तौलिये से पौंछकर टेलकम और बगलों में दुइडोरेंट लगाएं।  इससे पसीना नहीं आएगा।  इसके पश्चात् फाउंडेशन को गर्दन से ऊपर की ओर लगाना शुरू करें।  फाउंडेशन  को बालों, कानो और  माथे की रेखा तक लगाएं, अब गालों के ऊपरी भाग पर ब्रुश द्धारा रुज लगाकर धीरे-धीरे नीचे की ओर मलना चाहिए। रुज लगाने के पश्चात् चेहरे पर फेस पावडर लगाना चाहिए।  यदि आपकी भोंहें हल्की हैं तो इन्हे आइब्रो पेन्सिल द्धारा गहरा कर लें।  पलकों के साथ-साथ बारीक़ ब्रुश द्धारा आईलाइनर लगाये।  बाद में दुल्हन के वस्त्रों के अनुसार पलकों पर आईशेडो जंचता है तो इसके अतिरिक्त हरा और सुनहरा आईशेडो भी लगा सकते हैं।

औरतें अपने मेकअप का सामान ख़रीदे।

Bridal Makeup at alloverindia.in  

Learn How Do You Bridal Makeup

Learn How Do You Bridal Makeup at alloverindia.in

होंठों की लीपब्रश द्धारा बाह्य रेखा बनाते हुए उसमें लिपस्टिक का रंग वधु के वस्त्रों से मेल खाता होना चाहिए।  अंत में माथे पर चेहरे के अनुसार जैसी अच्छी लगे बिंदी लगानी चाहिये। माथे को सजाने के लिए  भौंहों के ठीक ऊपर अर्द्धचन्द्राकार में छोटी-छोटी बिंदियों की रेखा देनी चाहिये, जो बड़ी बिंदी के नीचे आपस में मिल जाती हैं।  लिपस्टिक माथे के मेकअप के बाद लगानी चाहिए। पहले हल्के रंग की लिपस्टिक लगाएं और बाद में गहरे रंग की।  लिपस्टिक लगाने के पश्चात् उस पर लिप-ग्लॉस लगाएं व सम्पूर्ण मेकअप अधिक देर तक स्थिर रहता हैं। हथेली, कान, अगल-बगल में परफ्यूम लगाकर वातावरण को महका दें।  

मेकअप करने के लिए कई प्रकार के ब्रश ख़रीदे।

केश सज़्ज़ा: सुंदर यवं आकर्षण केश सज़्ज़ा के लिए श्रृंगार से पूर्व बालों को शैम्पू से अच्छी तरह धोएं।  बाल चिकनाई रहित  जायेंगे और उनमें चमक आ जाएगी।  गीले बालों में रालर्स लगाकर उन्हें। बाल लम्बे हों तो केवल सामने की ओर रोलर्स लगाएं।  छोटे बालों के अलावा  सभी बालों में रोलर्स लगाना चाहिए। सूखने के पश्चात् बालों में से रोलर्स निकाल दें इससे स्वभाविक बल पड़ जायेंगे।  दुल्हन को हमेशा बीच की मांग निकालनी चाहिए क्यूंकि माथा पट्टी या टिके के लिए बीच की मांग उपयुक्त रहेगी।  फिर आगे के बालों की छोटी-छोटी लटे लेकर बैक कॉम्बिंग करें।  छोटे बालों का जुड़ा कुछ ऊंचाई पर बनायें और जूड़ा छोटी बनायें ज्यादा अच्छा रहेगा।  कद लम्बा हो तो जूड़ा कुछ मिचै पर रख सकती हैं।  अंत में बालों पर हेयर स्प्रे करना चाहिए जिससे बाल भली-भांति सैट हो जाएँ।  जूड़े पर फूलों का गजरा लगा दें। आपका केश-विन्यास खिल उठेगा। 

bridal hairstyles at alloverindia.in

सौंदर्य से सम्भधित समस्याएं एवं सुझाव Beauty Related Problems and Suggestions

कील मुहांसे : कील मुहांसे की रोकथाम के लिए त्वचा की सफाई की ओर विशेष ध्यान देना आवश्यक है।  कील मुहांसों से बचाव के लिए कुछ महत्वपूर्ण उपाय इस प्रकार हैं :

  1. त्वचा पर धूल-मिटटी का जमाव न होने देना चाहिए।
  2. त्वचा को वातावरण के प्रदूषण से बचाना चाहिए।
  3. दिन में दो बार चेहरा सल्फर युक्त साबुन से धोकर साफ़ करें। चेहरा थपथपाकर पौंछे।
  4. नींबू का रस अथवा कैम्फर स्प्रिट द्धारा चेहरे की चिकनाई उतारनी चाहिए।
  5. पेट की खराबी से भी मुहांसे बढ़ते हैं। अतः कब्ज़ न होने दें।
  6. अधिक चिकनाईयुक्त भोजन न करें। खाने में प्रोटीन, हरी सब्जियों, फलों एवं दालों का प्रयोग करें।
  7. मुहांसे होने पर भूलकर भी कभी इन्हे नाखूनों से छीलना नही चाहिए अन्यथा सेप्टिक होने का डर रहता है।
  8. मुहांसों से बचाव के लिए चेहरे पर मुल्तानी मिटटी का पैक लगाना चाहिए।
  9. प्रातः एक चम्मच शहद में सल्फर के फूल मिलाकर लेने से मुहांसे ठीक होने लगते हैं।
  10. खीरे के रस में गुलाबजल मिलाकर चेहरे पर लगाने से दागदार त्वचा साफ़ होने लगती है।
  11. लौंग व जायफल पीसकर मुहांसों पर लगाये। 20 मिनट बाद धो दें मुँहासे यदि हल्के हैं तो त्वचा को दिन में दो या तीन बार मेडिकेटेड साबुन से धो लें।
  12. भोजन में विटामिन-सी की मात्रा बढा दें या विटामिन-सी की गोलियां लें।

चेहरे की झुर्रियां: झुर्रियाँ पड़ने के निम्नलिखित कारण हैं- त्वचा के प्रति हमारे दुर्व्यवहार से अर्थात घटिया साबुन के प्रयोग से एस्ट्रिजेंट या इसी तरह के अन्य त्वचा को सुखाने वाले प्रसाधनों के अधिक प्रयोग से और, अस्वस्थ रहने से, नींद पूरी न होने से तथा हर समय तनावग्रस्त रहने से। बाहरी वातावरण के प्रभाव से अर्थात कड़ी गर्मी, धुप या जाड़े में बिना त्वचा की सुरक्षा किये बाहर निकल जाने से। उपचार : झुर्रियों से बचाव व उपचार के लिए निम्न बातों पर ध्यान देना होगा।  पौष्टिक भोजन करें, पानी का अधिक सेवन करें तथा भरपूर नींद लें।  तनाव मुक्त रहें और चर्बी, चीनी, अधिक कॉफी तथा नशीले पदार्थों का सेवन न करे।  मालिश के लिए अच्छी किस्म की क्रीम का उपयोग करे मालिश सदैव निचे से ऊपर की ओर करे। 

Buy Online Beauty Products

Hi, My Name is Mohit Bhardwaj from District Bilaspur Himachal Pradesh. I have done BCA from Himachal Pradesh University Shimla (H.P.). I’m studying with regular basis and developing my career in IT Sector.

Our Score
Our Reader Score
[Total: 4 Average: 4.5]

All Over India Website Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *