असम, अरुणाचल प्रदेश, आंध्र प्रदेश, बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गोवा, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, हरयाणा, जम्मू और कश्मीरझारखण्ड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, त्रिपुरा, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तराँचल, वेस्ट बंगाल

जाने भारतीय रेल से जुड़े कई मजेदार फैक्टर आप हैरान हो जायेंगे जानकार|

Indian Railways Related Interesting Facts Read All Over India

आपको शायद इस बात की जानकारी ना हो कि 22 दिसम्बर 1851 को देश की पहली मालगाड़ी रुड़की से हरिद्वार के करीब मौजूद पिऱन कलियार के बिच दौड़ी थी| हमारे देश की पहली मालगाड़ी ही पहली रेलगाड़ी भी थी| इस मालगाड़ी में रूड़की में किसानों के लिए मिट्टी और कंस्ट्रक्शन का सामान भेजा गया था| भारत की पहली यात्री रेलगाड़ी 16 अप्रैल 1853 को मुम्बई से थाना के बीच दौड़ी थी|

14 बोगी वाली इस ट्रेन में 400 यात्रियों ने सफर किया था और इस ट्रेन में मौजूद 3 डबो वाले इंजन का नाम सिंध, मुल्तान और साहिब रखा गया था| इस ट्रेन को 40 किलोमीटर का सफर तय करने में लगभग 1 घंटा 15 मिनट का समय लगता था| आपको शायद इस बात की भी जानकारी ना हो की रेलवे के कर्मचारियों की सँख्या 13 लाख 7 हजार 109 है जो करीब करीब भारतीय सेना की सँख्या के बराबर है|

भारतीय सेना में भी 13 लाख सैनिक हैं और इस तरह से यह दुनियाँ का 7वा और भारत का दूसरा सबसे बड़ा एम्प्लायर भी है| भारतीय रेलवे की पटरियों की कुल लम्बाई 1 लाख 8 हजार किलोमीटर है इतनी दुरी में पृथ्वी के ढाई चक्कर लगाए जा सकते हैं| भारतीय ट्रेन एक दिन में जीतनी दूरी तय करती है वो दूरी धरती से चाँद की दूरी से लगभग ढाई गुना ज्यादा है| हर दिन भारतीय रेलवे में सफर करने वाले लोगों की सँख्या ढाई करोड़ है|

यह ऑस्ट्रेलिया की जनसँख्या के बराबर है आपको इस बात की जानकारी नहीं होगी कि करीब 60 वर्ष तक भारतीय ट्रेन में शौचालय नहीं होते थे| वर्ष 1909 में पैसेंजर ट्रेन से यात्रा कर रहे अखिल चंद्र सेन के यात्री ने इस समस्या से जुड़े अपने निजी अनुभवों पर आधारित एक पत्र रेलवे को लिखा इस पत्र को पढ़ने के बाद ब्रिटिस सरकार ने भारतीय ट्रेन में शौचालय बनाने की शुरुआत की|

भारतीय रेल का Mascot भोलू नाम का हाथी है भारतीय ट्रेन में मौजूद गार्ड आज भी भोलू हाथी की Dress से मिलती जुलती पोशाक पहनते हैं| भारतीय रेलवे दुनियाँ का चौथा सबसे बड़ा नेटवर्क है भारत में कुल मिलाकर 7112 रेलवे स्टेशन हैं भारत में सबसे धीमी ट्रेन मेतुपलयम ऊटी नीलगिरि पैसेंजर ट्रेन है जिसकी रफ़्तार 16 किलोमीटर प्रतिघण्टा है और कहीं कहीं पर इस ट्रेन की रफ़्तार 10 किलोमीटर प्रति घण्टा से भी कम हो जाती है|

अगर आप चाहें तो बड़े आराम से इस ट्रेन से भी ज्यादा दौड़ सकते हैं| भारत में सबसे ज्यादा जगहों पर रुकने वाली ट्रेन हावड़ा अमृतसर एक्सप्रेस ट्रेन है और इसके 115 स्टॉपेज हैं| देश की सबसे लेट लतीफ़ ट्रेन गुवाहाटी त्रिवेंद्रम एक्सप्रेस यह ट्रेन औसतन 10 से 12 घण्टे देरी से चलती है| दुनियाँ का सबसे लम्बा रेलवे प्लेटफार्म उतर प्रदेश के गोरखपुर में है जिसकी कुल लम्बाई 1336 मीटर है|

भारत में सबसे लम्बे नाम वाला स्टेशन है वेंकट नरसिंह राजू वारिपटा इस नाम में कूल 29 शब्द हैं और सबसे छोटे नाम वाला रेलवे स्टेशन है इब (IB) जो की उड़ीसा में है| भारतीय रेल दुनियाँ की सबसे सस्ती रेल सेवाओं में से एक है| दुनियाँ का सबसे ऊँचा रेलवे पुल चिनाब नदी पर बन रहा है और इस रेलवे पुल की ऊंचाई पेरिस के एफिल टावर से भी ज्यादा होगी| भारतीय रेलवे की इतनी दिलचस्प बातें शायद आपको आज पहली बार पता चली होंगी|

I am Jitender Sharma and I am Alloverindia.in Web Founder, I always trying to provide you right information by our Web blog. If you are interested to contribute at Alloverindia.in website then your most welcome to write your articles and publish. Everybody can contact me by Skype: Robert.Jastin and Email: Jsconcept2013@gmail.com

Facebook Twitter LinkedIn Google+ Vimeo Skype 


Our Score
Our Reader Score
[Total: 1 Average: 5]
Please follow and like us: