आर्थिक संकट के समय कौन – कौन से उपाय लाभकारी होते है।

0
63
Which economic crisis at alloverindia.in
Which economic crisis at alloverindia.in

आर्थिक संकट के बारे में जाने आपने देखा होगा या महसूस किया होगा कि जब किसी मनुष्य को पैसे की कमी हो जाती है या फिर किसी व्यापारी को व्यापार में घाटा होने लगता है रूपये पैसे के लेन देन में उतार चढ़ाव आने लगता है जो लोग नौकरी करते है और अगर उनकी नौकरी में समस्याएं आने लगती है इन सब प्रकार की कठिनाइयों को आर्थिक संकट कहा जाता है। लोग तरह – तरह के पंडितों के पास इन समस्याओं का समाधान ढूढ़ने के लिए जाते है। पंडित अलग – अलग प्रकार के उपाय बताते है जो काफी महगें होते है इन सब समस्याओं को दूर करने के लिए ना तो जातक के पास धन होता है और वह पहले ही आर्थिक संकट से झूझ रहा होता है। आर्थिक संकट शुरू होने के कई कारण जातक में हो सकते है जैसे की जातक की कुंडली में काल सर्प दोष हो सकता है, जातक की कुंडली में पितृ दोष भी हो सकता है ,  जातक की कुंडली में योगिनी दशा का चलन हो सकता है इसके अलावा जातक नवग्रहों की महादशा से ग्रसित हो सकता है।

अगर आपको अपने आर्थिक संकट की दशा की सही जानकारी प्राप्त करनी है तो आपको अपनी जन्म कुंडली किसी पंडित को दिखानी चाहिए और अपने ऊपर आये हुए आर्थिक संकट के उपायों को जानना चाहिए। किसी कारणवश अगर आपके पास पंडित को अपनी जन्मकुंडली दिखाने का समय न हो तो आप हमारे द्धारा बताए गए उपाय को जरूर करें और अपने आर्थिक संकट की समस्या को दूर करें।

उपाय करने की बिधि क्या है

1 . अगर आप यह उपाय अमावस्या के दिन से प्रारम्भ करे तो अति उत्तम रहेगा अगर अमावस्या का दिन आने में काफी समय पड़ा है तो आप किसी भी सोमवार से प्रतिदिन एक मुठी चावल भरकर अपने ऊपर से 21 बार घुमाये और अगर आपके घर में शिव भगवान की मूर्ति है या फिर आपके घर में शिवलिंग स्थापित है तो शिवलिंग के ऊपर चढ़ा दे। किसी कारणवश अगर आपके घर में शिवलिंग नही है तो मिटी का नया बर्तन लेना चाहिए और उसमें अपने ऊपर से 21 बार घुमाये हुए  चावल की मुठी को रखते जाये। ऐसा आपको 41 दिन लगातार करना है। और 41 दिन के बाद किसी ब्राह्मण पंडित को मिटी के बर्तन में भरे हुए चावल और 5 अलग – अलग  कपड़ों के साथ दान दे देना चाहिए। 5 कपड़ों में क्या होना जरूरी है।  धोती, तोलिया, बनियान, कुर्ता, रूमाल।

2 . अगर आपके घर में गाय है या फिर आपके घर के नजदीक कोई गौशाला है तो रोजाना सुबह या फिर शाम को गाय को हरी घास खिलाये। गाय को रोजाना हरी घास खिलाने से आपका आर्थिक संकट टलने लगता है।

3 . आपके घर के नजदीक कई बार रास्ते  में  या फिर खेत में चींटियों का झुण्ड उमड़ा होता है आपको रोजाना चींटियों को चावल , चीनी , काले तिल  इन सबको मिलाकर एक बर्तन में रख लेना चाहिए और रोजाना चींटियों को मुठी भर डालना चाहिए ऐसा आपको 41 दिन लगातार करना है जिससे आपका आर्थिक संकट दूर होने लगता है।

4 .  कुम्हार से मिटी से बना नौ दीपों का दीप लाये या फिर यह आपको किसी भी दुकान पर मिल सकता है। रोजाना 41 दिन तक आपको यह नौ दीपों का दीप  नव ग्रह शांति के लिए लगातार जलाना है  प्रत्येक दीप के नीचे लाल स्याही से एक – एक करके नव ग्रहों के नाम लिखे और रख दे  नवग्रहों के नाम सूर्य, चंद्र, मंगल, बुध, बृहष्पति, शुक्र, शनि, राहु, केतु- इस प्रकार से है।

5 . इन सब बताए गए उपायों को लगातार 41 दिन तक करें अगर आपके घर के नजदीक कोई मंदिर है तो रोज़ाना मंदिर में भगवान के दर्शन करने जरूर जाएं ऐसा करने से आपके आर्थिक संकट की समस्या से आपको निजात मिलेंगी।