आओ मिलकर बचाएं मुस्कान आने वाली बेटियों की!

0
170
save your girls alloverindia.in

मैं तो हूँ एक नन्ही सी जान, बनने से पहले ही मत मिटाओ मेरा नामोनिशान, सुन लो मेरी ये पुकार, देखने दो मुझे ये संसार! बनूंगी तुम्हारे आंगन की मुस्कान, करने दो मुझे रौशन ये जहान! जिला प्रसासन बिलासपुर, हिमाचल प्रदेश की एक पहल “मुस्कान” MUSKAAN जिला प्रसासन बिलासपुर, हिमाचल प्रदेश द्धारा कन्या भ्रूण हत्या के विरुद्ध विशेष अभियान “मुस्कान” आधुनिक युग में रोग निदान में वैज्ञानिक तकनीक अल्ट्रासॉउंड एक ओर चमत्कार व बरदान साबित हुई है वही विज्ञानं गलत हाथों में अभिशाप बन रहा है।

पहले बेटियां पैदा होने के बाद गला घोंट कर मार दी जाती थीं अब गर्भ में ही मारने की पंरपरा बन गई है जो हमारे समाज के लिए एक कलंक है। आज पुरे देश में, राज्य में तथा हमारे जिले में असंतुलित व घटता लिंग अनुपात गंभीर चिंता का विषय है। जिला बिलासपुर में कुछ पंचायतों में लिंग अनुपात की दर बहुत ही चिन्ता जनक है तथा आस्चर्यचकित करने वाले आंकड़े ध्यान में आए हैं। जिला प्रसासन कन्या भ्रूण हत्या के विरुद्ध विशेष अभियान “मुस्कान” के माध्यम से बिलासपुर के हर नागरिक से अपील करता है कि साथ मिलकर इस घोर अपराध के विरुद्ध अपनी सकारात्मक व रचनात्मक सहभागिता सुनिश्चित करें।

पी.सी.पी.एन.डी.टी. अभियान 1996 क़ानूनी प्रावधान।

1. पी सी पी एन डी टी अभियान 1996 के अन्तर्गत भ्रूण की लिंग जाँच व गर्भ धारण पूर्व Y गुण पृथक कर मेल ट्यूब बेबी तैयार करना गैर क़ानूनी है।
2. गर्भ धारण से पूर्व महिला के X और पुरुष के Y गुण सूत्र का मिलान कर टेस्ट ट्यूब मेल बेबी बनाने की प्रथा पर रोक लगाने के उदेश्य से प्रसव पूर्व निदान तकनीक कानून को संसोधित कर 1996 में पी सी पी एन डी टी अधिनियम लागू है।

3. इस अधिनियम के अन्तर्गत अपराधी को 3 से 5 साल की कैद तथा दस हजार रूपये से 1 लाख रूपये जुर्माने का प्रावधान है।

4. भ्रूण हत्या की सूचना देने वाले को दस हजार रूपये का पुरस्कार का प्रावधान भी है।

बेहतर लिंग अनुपात संतुलन हेतु हिमाचल सरकार द्धारा निम्न योजनाएं चलायी गयी है:-

1. इंदिरा गांधी बालिका सुरक्षा योजना:- के अन्तर्गत एक जीवित बालिका पर परिवार नियोजन का स्थाई ऑपरेशन करवाने पर 25,000/- रूपये उस बालिका के नाम एवं दो जीवित बालिकाओं पर परिवार नियोजन का स्थाई ऑपरेशन करवाने पर दोनों बालिकाओं के नाम दस हजार रूपये की राशि बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा करवाई जाती है बालिकाओं की 18 वर्ष की आयु पूरी करने पर पूर्ण राशि ब्याज सहित दी जाती है।

2. बेटी है अनमोल योजना:- बालिकाओं के प्रति समाज में सकारात्मक दृष्टि कोण पैदा करना और बालिका जन्म को अभिशाप न माना जाए, इस दृष्टि से ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में गरीबी रेखा से नीचे व बी.पी.एल. परिवारों में जन्मी अधिकतम दो बालिकाओं को योजना के अन्तर्गत प्रदान की जाने वाली सहायता के रूप में दस हजार रूपये की धनराशि बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा करवाई जाती है। 18 वर्ष की आयु पूरी करने पर पूर्ण राशि ब्याज सहित दी जाती है।

इसके अतिरिक्त्त बालिकाओं को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के उदेस्य से मुबलिक 300/- रूपये से 1500/- रूपये तक की छात्रवृति प्रतिवर्ष प्रथम कक्षा से बाहरवीं कक्षा तक दी जाती है।

3. किशोरी शक्ति योजना:- का मुख्य उददेश्य 11 से 18 वर्ष की किशोरियों के स्वास्थ्य एंव पोषण की स्थिति में सुधार लाना, अनौपचारिक शिक्षा के द्धारा किशोरियों में साक्षरता को बढ़ावा देना, गृह आधारित एंव व्यवशायीक कौशल में सुधार लाना, उनमें स्वास्थ्य, पोषाहार, स्वछता, गृह प्रबन्धन एंव बच्चों की देख रेख सम्बन्धी ज्ञान को बढ़ाना है।

4. लिंग अनुपात में सर्वश्रेष्ठ आने वाले विकासः खंड को विकासः कार्य हेतू 5 लाख रूपये की अतिरिक्त राशि का प्रावधान है।

5. मुख्यमन्त्री कन्यादान योजना:- योजना का मुख्य उददेश्य विधवा/बेसहारा महिलाओं की पुत्रियों के विवाह हेतू वित्तीय सहायता उपलब्ध करवाना, जिनकी वार्षिक आय 35,000/- रूपये से अधिक न हो, को 25,000/- रूपये की राशि प्रोत्साहन के रूप में दी जाती है।
अधिक जानकारी के लिए या किसी प्रकार की गुप्त सूचना देने हेतू जिला बिलासपुर में स्वास्थ एंव परिवार कल्याण विभाग, महिला एंव बाल विकासः विभाग तथा पुलिसः विभाग के निम्नलिखित कार्यालय /दूरभाष नम्बरों पर सम्पर्क करें।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग:

मुख्य चिकित्सा अधिकारी बिलासपुर -01978 -222586
खण्ड चिकित्सा अधिकारी मारकण्ड -01978 -286025
खण्ड चिकित्सा अधिकारी घुमारवी -01978 -255238
खण्ड चिकित्सा अधिकारी झंडूता -01978 -272024

महिला एंव बाल विकासः विभाग:

जिला कार्यक्रम अधिकारी (डीपीओ) -01978-221514, 9872204230
बाल विकासः परियोजना अधिकारी घुमारवी -01978 -255346, 9418035508
बाल विकासः परियोजना अधिकारी सदर -01978 -222773, 9418479881
बाल विकासः परियोजना अधिकारी झंडूता -01978 -272360, 9418176958

पुलिसः विभाग

पुलिसः नियन्त्रण कक्ष -100 -01978 -224400
पुलिसः, महिला एंव बाल कल्याण इकाई सदर -9459407423
पुलिसः, महिला एंव बाल कल्याण इकाई घुमारवी -9805883256

“आइए हम सब मिलकर, बेटियां जो इस समाज का अभिन अंग है को समाज में मुस्कान के साथ आने दें। परिवार व समाज में बेटी के जन्म को स्वीकार करने तथा जिला प्रशासन बिलासपुर की एक पहल “मुस्कान” को सफल बनाने में जिला प्रशासन का सहयोग करें।”

उपायुक्त बिलासपुर, जिला बिलासपुर (हिमाचल प्रदेश) written by Manasi Sahay Thakur (IAS), DC Bilaspur H.P