‘प्रोजेक्ट मैनेजमेन्ट इनफार्मेशन सिस्टम’ एमसीआई सुधार, ‘प्रधानमंत्री उज्जवल योजना’

0
269
Modi Visiting Jammu Kashmir when read at alloverindia.in website

रेल परियोजना की निगरानी के लिए ‘प्रोजेक्ट मैनेजमेन्ट एंड इनफार्मेशन सिस्टम’ प्रारम्भ: रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने 3 मई को, ई-सहायक परियोजना ‘प्रोजेक्ट’ मैनेजमेंट एंड इनफार्मेशन सिस्टम’ (पीएमआईएस) PMIS लॉन्च किया। इसकी मदद से देश की सभी रेल परियोजनाओं की उचित निगरानी की जा सकेगी। यह देश की सभी रेल परियोजनाओं के समुचित निगरानी और प्रबंधक के लिए महत्वपूर्ण है।

रेल नेटवर्क में विस्तार और उसे क्रियाशीलता को प्रभावोत्पादक बनाने पीएमआईएस PMIS जैसी वेब आधारित एप्लीकेशन सेवा लाभदायक है। एमआईएस जारी परियोजनाओं से सम्बन्ध सभी प्रकार कि जानकारी उपलब्ध कराएगी, जिससे परियोजनाओं को सफलतापूर्वक सञ्चालन और समयावधि में पूर्ण करने में मदद मिलेगी। 

इससे रेलवे को आर्थिक दृष्टि से लाभ होगा। एक्जिम एनालिटिक्स डैशबोर्ड भारत से निर्यात – आयत पर ग्राफ़िक संग्रह पेश करता है। अर्थात इससे यह जानकारी मिलती है जैसे विगत वर्षों के दौरान देश का निर्यात कारोबार, निर्यात गंतव्य निर्यात वस्तुओं, बंदरगाहों अंतर्देशीय, समुद्री बंदरगाहों अथवा हवाई अड्डों आदि।

एमसीआई में सुधार के लिए आरएम लोढ़ा समिति का गठन

सर्वोच्च न्यायलय ने 2 मई, 2016 को मेडिकल कंसीलिंग ऑफ़ इंडिया (एमसीआई) MCI की कार्यप्रणालियों में सुधारआरएम लोढ़ा समिति का गठन किया। ‘एमसीआई’ MCI भारतीय चिकित्सा की नियामक संस्था है। आरएम लोढ़ा समिति का गठन भारतीय संविधान के अनुच्छेद -142 के अंतर्गत शीर्ष न्यायालय द्वारा किया गया है। 

इस समिति में पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) विनोद रॉय एवं डॉ. एमके सरीन शामिल हैं। शीर्ष अदालत ने संसदीय स्थायी समिति की रिपोर्ट एवं विभिन्न सरकारी पैनलों की रिपोर्ट के आधार पर एमसीआई MCI को अनैतिक कार्यों मैं संलग्न पाया है। एमसीआई MCI की पेशागत असफलता और गैर जिम्मेदारीपूर्ण व्यवहार में और आपेक्षा की गयी है।   

प्रधानमंत्री उज्जवल योजना’ की औपचारिक शुरुआत

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 1 मई, 2016 को प्रदेश के बलिया में एलपीजी गैस आपूर्ति से सम्बंधित ‘प्रधानमंत्री उज्जवल योजना’ की औपचारिक शुरुआत की। Rs.8000 करोड़ की इस योजना के लिए आंशिक वित् पोषण 1.13 करोड़ घरेलू उपभोक्ताओं के द्वारा एलपीजी सब्सिडी छोड़ने से हुई बचत के द्वारा किया जाना है। 

‘प्रधानमंत्री उज्जवल योजना’ का मुख्य उद्देश्य़ गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को अगले तीन वर्षों के भीतर 5 करोड़ निःशुल्क घरेलु एलपीजी सुविधा उपलब्ध करना है। इस परियोजना के तहत गरीब परिवारों को प्रत्येक एलपीजी कनेक्शन लिए Rs. 1600  की वित्तीय सहायता दी जायेगी। इस योजना के अंतर्गत Rs.1600 वित्तीय, सहायता सब्सिडी के तौर उपलब्ध कराई जायेगी, जिसमे धन का हस्तांतरण महिला मुखिया के खाते में सुधार किया जा सकेगा। 

पहले ‘राष्ट्रीय आदिवासी  महोत्सव’ का आयोजन

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 29 अप्रैल, 2016 को दिल्ली में राष्ट्रीय आदिवासी महोत्सव का उद्घाटन किया। यह आदिवासी समुदाय पर केंद्रित, देश में आयोजित होने वाला पहला राष्ट्रीय उत्सव है। राष्ट्रीय आदिवासी महोत्सव के आयोजन का मुख्य उद्देस्य देश में निवास करने वाली सभी आदिवासी जनजातियों की संस्कृति व अन्य सम्बंधित तथ्यों को आम जनता के साथ साँझा करना है।

इसके माध्यम से इन समुदायों को मुख्यधारा से जुड़े लोगों को परिचित करना और उनके संरक्षण व विकास को बढ़ावा देना प्रमुख लक्ष्य रखा गया है। 2 मई, 2016 तक चले इस महोत्सव में देशभर की लगभग 3000 विभिन्न आदिवासी जनजातियों से जुडी संस्कृति, पहनावे, रीती – रिवाज तथा परम्पराओं को प्रदर्शित किया गया।