नो एडिक्शन पाउडर लो और जिन्दगी से नाता जोड़ो क्योंकी जिन्दगी एक रोशनी की तरह है।

0
299
No-Addiction-Powder-at-alloverindia.in

आप सभी जानते हैं की जिंदगी एक बहुत ही अनमोल रतन है जो इंसान को 84 लाख जून भुगतकर मिलता है इस जन्म में हम एक इंसान के रूप में है। परंतु हमें यह ज्ञात नहीं कि अगले जन्म में हम कौन से रुप में होंगे कई लोग जिंदगी को बहुत ही सुचारू रूप से चलाते हैं। परंतु कुछ लोग अपनी जिंदगी में अपने रास्ते से भटक जाते हैं और जिंदगी के उन हसीन पलों को नशे की भट्टी में धकेल देते हैं। जब इंसान नशे की इस भटी में कूद गया होता है, फिर उसे ना तो अपनी जिंदगी की परवाह होती है, ना अपने घर वालों की होती है, ना अपने रोजाना के कामकाज की परवाह होती है। कई बार तो कॉलेज में पढ़ने वाले छात्र ही इस नशे की भट्टी में कूद पड़ते हैं और अपनी जिंदगी को तबाह कर लेते हैं सरकार इन नशीली वस्तुओं पर ना तो पाबंदी लगाने में कामयाब हो पाई है। अगर कई राज्यों में कामयाब हुई भी है तो यह नशीली वस्तुओं का कारोबार सरकारों की नाक के नीचे होता आ रहा है। परंतु सरकार इसे रोक पाने में असफल रही है और आज हमारी युवा पीढ़ी दिन-प्रतिदिन नशे की गोद में खेलती जा रही है जैसे की एक खराब मछली सारे तालाब को खराब कर देती है। तो हमारा मानना यह है कि एक अच्छी सोच सारे समाज को अच्छा भी कर सकती है परंतु अगर हमने कोई अच्छा कार्य करना हो तो उसके लिए हमें बहुत ज्यादा संघर्ष करने की जरुरत होती है। और अगर कोई बुरा काम  करना हो तो उसे करने में कुछ मिनटों का समय लगता है।

कई बार भारत जैसे देश में जहां पर बहुत भारी जनसंख्या में लोग रहते हैं। तो यहां पर बहुत सारी नशामुक्ति संस्थाएं भी हैं। ऐसे संस्थानों ने कई बार कोशिश की की भारत देश से नशे को मुक्त किया जाए और ऐसी संस्थाएं बहुत बार कामयाब भी हुई है। लेकिन मुद्दा यह उठता है कि आज की हमारी युवा पीढ़ी जो नशे में डूबती जा रही है उसे डुबोने से कैसे बचाया जाए क्या हमारे नौजवानों के पास कुछ करने को नहीं है। कुछ लोग काफी पढ़े लिखे होने के बावजूद भी नशे की इस भटी में कूदने से अपने आप को नहीं रोक पाते इस तरह के सवाल क्यों हमारे सामने आते हैं। और क्यों हमारी युवा पीढ़ी नशे की ओर अग्रसर होती जा रही है। हमें यह भी देखना जरूरी है, हमें यह सोचना भी जरूरी है, कि नशे की तरफ हमारी युवा पीढ़ी कौन से कारणों से बढ़ती जा रही है। कम होने का नाम ही नहीं लेती आइए इन सब बिंदुओं पर एक नजर डालें।

कौन – कौन से ऐसे कारण हैं जिनकी वजह से नशा बढ़ता जा रहा है।

  1. नशे में डूबने वाले सबसे ज्यादा हमारी युवा पीढ़ी है। अगर किसी अमीर घराने के लड़के, लड़कियां जिनको घर से एकदम खुला खर्चा मिलता है। ऐसे युवा युक्तियां इस पैसे को या तो अपने सजने सवरने के लिए खर्च कर देते हैं। लेकिन ऐसे युवा, युवतियों का क्या करें जो घर से मिलने वाले पैसे को नशे की दुकान पर उड़ा देते हैं। इसे कैसे रोका जाए। क्या मां बाप बच्चों को पैसे ना दें खुला खर्चा नां दे। तो क्या करें। इसका उपाय एक ही है। हर युवा के पास अपनी लाइफ में, अपनी जिंदगी में एक टारगेट होना जरूरी है। जैसे कि मुझे अपनी जिंदगी में करोड़ों रुपए, अरबों रुपए, कमाना है। लेकिन अपनी मेहनत से और इसके लिए इंसान के पास सव्र होना भी जरूरी है। मुझे नौकरी करनी है। उसके लिए मुझे अच्छी पढ़ाई करनी पड़ेगी। मुझे नौकरी प्राप्त करने के लिए टैस्ट भी क्लियर करने पड़ेंगे। इस तरह के बहुत सारे मुद्दे होते हैं। अब जरूरी नहीं है। अगर आप एक नौकरी पाने के लिए परीक्षा में उत्तीर्ण नहीं होते तो आप इससे दुखी हैं। और नशे की दुकान की तरफ अपने कदमों को ले जाते हैं। आप दूसरे शिक्षा के परिणाम अपने हिसाब से जैसे आप चाहते हैं उस तरह की तैयारी करने की कोशिश करें। सुबह शाम शारीरिक व्यायाम करें ताकि आप अपने आप को व्यस्त महसूस कर सकें।
  2. मार्केट में बीड़ी, सिगरेट, जर्दा, तंबाकू, चैनी खैनी, शराब (Alcohol), अफीम, हीरोइन, जैसे कई प्रकार के नशे लोगों को लगे हुए हैं। सिगरेट जर्दा तंबाकू चैनी खैनी शराब यह चीजें बहुत ही आसानी से नशा करने वाले को अपने आसपास की दुकान पर मिल जाती है। और यह नसे इस तरह के हैं कि जो एक दूसरे को देख कर बहुत जल्दी प्रभावित हो जाते हैं। हमने पाया है की, अगर किसी कोने में खड़े होकर या बैठकर चार लड़के बीड़ी, सिगरेट पी रहे हैं। और कोई अन्य लड़का रोजाना उनको देखता है तो 100 में से 80 लड़के ऐसे होंगे जो उन चारों को नशा करते देख कर उन्ही की तरफ बढ़ना शुरू कर देंगे। और 80 लड़कों को भी नशे की लत लग जाएगी। ऐसा करने से आप अपने आप को कैसे रोकें इसके लिए भी उपाय नीचे दिए गए हैं। जरूर पढ़ें। और अपनी जिंदगी को सवारे आपकी जिंदगी किसी कोहिनूर हीरे से कम नहीं है।
  3. कुछ लोग बीड़ी, सिगरेट, शराब, जर्दा, खैनी जो दूसरों को खाते हुए देखते हैं या इन नशीली वस्तुओं का सेवन करते हुए देखते हैं तो ऐसा लगता है। कि हमें भी यह शौक अपने आप को लगाना चाहिए परंतु इस देखा देखी की दौड़ में हम यह भूल जाते हैं कि हमने अपनी जिंदगी के कुछ अनमोल दिन कम कर लिए हैं। और फिर इन नशीली आदतों से बाहर निकल कर आना बहुत मुश्किल होता है। ना चाहने पर भी आप नशीली वस्तुओं के सेवन से बाहर नहीं निकल पाते हैं तो इसके लिए सबसे अच्छा उपाय हमारे आयुर्वेदिक डॉक्टरों ने निकाला है “नो एडिक्शन पाउडर” “No Addiction Powder” जिसके द्वारा आप अपने आप को नशा मुक्त कर सकते हैं।

नो एडिक्शन पाउडर का अविष्कार कैसे हुआ और किसलिए

अब बात “नो एडिक्शन पाउडर” की चल रही है तो हमारे लिए यह जानना सबसे जरूरी है कि “नो एडिक्शन पाउडर” का अविष्कार कैसे हुआ। और किसने किया। “नो एडिक्शन पाउडर” “दिव्य ऋषि संस्थान” Divyarishi Sansthan No Addiction द्वारा रचित है। “नो एडिक्शन पाउडर” को सत प्रतिशत आयुर्वेदिक औषधियों से तैयार किया है। प्रतिवर्ष हजारों लोग नशीली वस्तुओं के सेवन से अपनी जान गवा बैठते हैं। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन की रिसर्च में पाया गया और 12 फरवरी 2011 को “इंडियन एक्सप्रेस” Indian Express में प्रकाशित एक आर्टिकल में दुनिया की आबादी के 4% लोग केवल नशे के कारण अपनी जान गंवा बैठते हैं। लगभग 25 लाख लोग शराब के कारण अपनी जिंदगी तबाह कर देते हैं। इस नशे से मुक्त करने का उपाय केबल “दिव्य ऋषि संस्थान” “Divyarishi Sansthan No Addiction” ने ढूंढा जिसको नाम दिया गया “नो एडिक्शन पाउडर” इस पाउडर में आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का इस्तेमाल किया गया है। जिस का सेवन करने से आपको कोई नुकसान नहीं होगा अपितु आप को जो नशे की लत लगी है धीरे – धीरे बो नशा आपसे दूर होता जएगा और इसीलिए इसका नाम है “नो एडिक्शन पाउडर” हजारों लोग आज “नो एडिक्शन पाउडर” का इस्तेमाल कर रहे हैं और अपनी जिंदगी को आराम से जी रहे हैं यही “नो एडिक्शन पाउडर” का और “दिव्य ऋषि संस्थान” का मिशन है।


कीमत और आर्डर करने का तरीका।

नो एडिक्शन पाउडर के बारे में अधिक जानकारी के लिए नीचे दी गई वीडियो को जरूर देखें। अगर आप इसे अभी मंगवाना चाहते हैं तो इस फोन नंबर पर अपना आर्डर बुक करवाएं। 092122-00222

नो एडिक्शन पाउडर की कीमत केवल MRP 2990 रूपय 2328 रूपय है डिलीवरी चार्ज अलग से होंगे। जब यह प्रोडक्ट आपके घर पर आ जाए तो उस समय भी आप पेमेंट कर सकते हैं अगर आपके पास एटीएम (ATM) कार्ड है तो आप ऑनलाइन पेमेंट भी कर सकते हैं।