भारत की बढ़ती सैनिक शक्ति। हिन्दुस्तान ने हाल ही में K-4 मिसाइल का सफल परीक्षण।

0
137
k4 missile DRDO read at alloverindia.in

हिन्दुस्तान अपनी समन्दर की सिमा में किलर मिसाइल तैनात करने जा रहा है और ऐसा करने से हिन्दुस्तान दुनियाँ की महसक्ति वाले 5 देशों में शामिल हो जायेगा। आइये जानते हैं क्या है यह महसक्ति K-4, यह मिसाइल अपने आप में बहुत खास है। हिन्दुस्तान के पास पहले से ही ब्रम्होस, अग्नि और पृथ्वी मिसाइल मौजूद हैं और इन मिसाइलों का सफल परीक्षण हो चूका है। लेकिन K-4 मिसाइल डी आर डी ओ की देख रेख में बनी हुई है और इस मिसाइल का निशाना बहुत सटीक है इसीलिए हिन्दुस्तान अब इस मिसाइल को समन्दर में स्थापित करना चाहता है। हिन्दुस्तान ने हाल ही में K-4 मिसाइल का सफल परीक्षण कर लिया है। यह मिसाइल 700 किलोमीटर तक सटीक निशाना लगा सकती है और यह मिसाइल दुशमन की मिसाइल को आसमान में ही ख़त्म कर सकती है।

K-4 मिसाइल को एडवांस्ड टेक्नोलॉजी के साथ बनाया गया है और इसे कुछ सेकण्ड में ही मोबाइल लॉन्चर से दागा जा सकता है। K-4 मिसाइल की कुल लम्बाई 7.5 मीटर है। भारत इस मिसाइल को समुंदरी पनडुब्बियों में स्थापित करने जा रहा है। K-4 मिसाइल के आ जाने से भारत दुनियाँ का पांचवा देश बन गया है जिसके पास पानी के अन्दर से मिसाइल दागने तकनीक आ चुकी है। भारत की ओर से दुशमन देशों को यह एक कड़ा सन्देश है की भारत को कमजोर ना समझें। 

k4 missile DRDO read at alloverindia.in website

अगर हम दुनियाँ की बात करें तो अमेरिका के पास एक साथ तीन परमाणु हमले करने में सक्षम मिसाइल हैं परन्तु भारत में डी आर डी ओ ने K-4 मिसाइल का निर्माण कर भारत की आसमानी सैनिक शक्ति को बहुत ज्यादा मजबूत बना दिया है।

indian and american army joint sea patrolling read at in hindi alloverindia.in

चीन समंदर में भारत को घेरने में लगा है लेकिन मोदी सरकार इसके लिए अपनी कमर कस चूका है। चीन के फाइटर जेट विमान समंदर में टापू बनाकर उतारे जा रहे हैं आपको बता दें की चीन ये टापू हिन्दमहासागर में 16 जेट विमान समंदर में विस्थापित कर दिए हैं और ये बहुत घातक लड़ाकू विमान हैं मानो चीन ने भारत के साथ युद्ध की तैयारी कर ली हो। दुनियाँ के कई देशों को चीन के इस फैसले से नाराजगी है चीन ने 3 किलोमीटर हवाई रन वे भी बना लिया है। चीन ने हिन्दमहासागर के बनाए हुए टापू पर मिसाइल भी तैनात कर दी हैं। चीन भारत और अमेरिका के जंगी जहाजों को टार्गेट करने की तैयारी में है। चीन ने पूरी तैयारी के साथ मिसाइल लॉन्चर तैनात कर दिए हैं।

indian and american army joint patrolling read at alloverindia.in

जबकि यह वक्त भारत और अमेरिका की सेनाओं में समंदर के बिच युद्धा अभ्यास होना है और दोनों देशों के सेनाएं इसके लिए तैयार भी हैं। इसके चलते चीन इस होने वाले युद्धा अभ्यास को कड़ी चुनौती देना चाहता है चीन का इस तरह से हिन्दमहासागर में टापू बनाकर और वहां पर मिसाइल तैनात कर यह जताना है की समंदर पर सिर्फ चीन का कब्ज़ा है। इसके लिए भारत और अमेरिका की नौ सेना जॉइन्ट पेट्रोलिंग करने जा रही है।

Buy Remote Helicopter Toys