मेक इन इण्डिया के तहत रेल बजट घोषित किया गया 26-02-2015 रेल बजट 2015-16

0
71
Indian-Railways budget 2015-16 alloverindia.in

रेल बजट में कोई भी नई ट्रेन चलाने की घोषणा नही की गई। मेक इन इण्डिया के तहत रेल के इन्जन, डिब्बे और पहिए इण्डिया में तैयार किए जाएंगे। यात्री किरायों में कोई बढ़ौतरी नहीं की गई। स्मार्ट फ़ोन के जरिये रेल टिकेट बुक किये जायेंगे। महिला डिब्बो में CCTV कैमरे लगाये जायेंगे। अच्छे खाने के लिए नई बेस किचन लगाये जायेंगे। जनरल डिब्बो में मोबाइल चार्जर लगाये जायेंगे। व्हील चेयर की ऑनलाइन बुकिंग की जाएँगी। ई टिकेट सभी भाषाओं में उपलब्ध करवाई जायेगी। रेल की स्पीड भी बढ़ाई जायेगी। और नई रेल लाइनों को बिछाया जायेगा। किराये में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई इससे लोगों में खुशी हैं।

रेल सिक्युरिटी को बढ़ावा दिया जायेगा। बजुर्गो के लिए लोअर बर्थ और महिला सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर रहेगा 182, ट्रेनों में 17,000 नये बॉयो टॉयलेट लगाये जाएँगे। इस बजट में रेल के इंजन, डिब्बे और पहिये के प्लांट अगर भारत में लगे तो लोगों के लिए नौकरियां मिलेगी। ये सबसे अच्छी बात है। परन्तु प्लांट लगे तो। रेलवे में नौकरी के लिये ऑनलाइन आवेदन होगा। 4 नये रेलवे रिसर्च सेन्टर खोले जायेंगे। पार्सल के लिये बार कोडिंग सुविधा दी जाएगी। 2 की जगह अब 4 महीने पहले आरक्षण। 5 साल में 85,000 करोड़ का निवेश होगा। बर्थ पर चढ़ने के लिये नई सीढ़ियों का निर्माण किया जायेगा। 24 घंटे यात्रियों के लिए हेल्पलाइन नंबर रहेगा 138, 9 रूटों पर 160 से 200 किमी प्रति घंटे की स्पीड बढ़ाई जाएगी।